AAPKI JIMMEDARI

AAPKI JIMMEDARI

Monday, 8 January 2018

प्रमुख सचिव श्री श्रीवास्तव ने तैयारियों का लिया जायजा, बैठक में दिए निर्देष

‘‘एकात्म यात्रा‘‘ का समापन कार्यक्रम 22 जनवरी को
प्रमुख सचिव श्री श्रीवास्तव ने तैयारियों का लिया जायजा, बैठक में दिए निर्देष


खण्डवा 8 जनवरी, 2018 - प्रमुख सचिव संस्कृति विभाग श्री मनोज श्रीवास्तव ने सोमवार को ओंकारेष्वर के प्रसादालय सभाकक्ष में अधिकारियांे की बैठक लेकर आगामी 22 जनवरी को एकात्म यात्रा के समापन अवसर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रम की तैयारियों की विस्तार से समीक्षा की। बैठक में कलेक्टर श्री अभिषेक सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री नवनीत भसीन, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. वरदमूर्ति मिश्र, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री महेन्द्र तारणेकर के अलावा संस्कृति विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे। श्री श्रीवास्तव ने ओंकारेष्वर प्रवास के दौरान आदि शंकराचार्य की गुफा , ज्योतिर्लिंग मंदिर व परिक्रमा पथ का भी जायजा लिया। उन्होंने आगामी 22 जनवरी को आयोजित वृहद कार्यक्रम के लिए सभी आवष्यक तैयारियां अभी से प्रारंभ करने के निर्देष अधिकारियांे को दिए। 
प्रमुख सचिव संस्कृति श्री श्रीवास्तव ने आदि शंकराचार्य की 108 फीट उॅंची अष्टधातु की प्रतिमा स्थापना स्थल तथा धर्मसभा आयोजन स्थल पर पर्याप्त संख्या में बैठक व्यवस्था, सुरक्षा व्यवस्था, पेयजल , स्वास्थ्य, अग्निषमन व्यवस्थाएं सुनिष्चित करने के निर्देष दिए। उन्होंने बताया कि इस विषाल धर्मसभा में प्रदेष के सभी जिलों से श्रद्धालु आयेंगे, अतः उनके ठहरने , वाहन पार्किंग आदि के लिए बड़े पैमाने पर इंतजाम सुनिष्चित किए जाये। उन्होंने बताया कि एकात्म यात्रा के इस समापन कार्यक्रम में देषभर से साधु संत, रिसर्च स्कॉलर, कलाकार व अन्य श्रद्धालु आयेंगे।
प्रमुख सचिव संस्कृति श्री श्रीवास्तव ने 22 जनवरी को इंदौर , खण्डवा व अन्य तरफ से आंेकारेष्वर आने वाले वाहनों के सुगम आवागमन के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को ट्रेफिक व पार्किंग प्लान व्यवस्थित ढंग से तैयार करने के लिए कहा। उन्होंने ओंकार पर्वत के परिक्रमा पथ की मरम्मत कराने के लिए भी संबंधित अधिकारियों को निर्देष दिए। प्रमुख सचिव संस्कृति श्री श्रीवास्तव ने ओंकारेष्वर में नियंत्रण कक्ष बनाने, फायर बिग्रेड, अस्थाई शौचालय, पेयजल व्यवस्था, एम्बूलेंस , अस्थाई चिकित्सा केन्द्र, बनाने के लिए भी निर्देष दिए। उन्होंने बताया कि 22 जनवरी के कार्यक्रम में मुख्य मंच ओंकारेष्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर की डिजाइन का तैयार किया जायेगा। इसके आसपास चार मंच और बनाये जायेंगे जिन पर देष भर से आये संतगण व चारों मठो से आए वेदपाठी बटुक बैठेंगे।            

No comments:

Post a Comment